नीमच

नयागांव चेक पोस्ट बना हुआ है अवैध वसुली का अड्डा आये दिन तथ्य मय सबुत मिलने पर भी नही होती कार्यवाही- श्रीमती शर्मा

 नयागांव – महिला कांग्रेस जीला अध्यक्ष स्नेहलता शर्मा ने नयागांव  मार्ग पर स्थित परिवहन विभाग की चेकपोस्ट पर निशाना साधते हुए कहा है कि यहां आऐ दिनों अवैध वसूली हो रही है यहां अधिकारियों और कर्मचारियों की लंबे समय के हिसाब से चैकपोस्ट में वसूली का खेल जारी है, एक और प्रदेश के मुखिया कहते है भ्रष्टाचार बर्दाश्त नही करुंगा  और कुछ अधिकारीयो को सस्पैंड करने का आर्डर मंच से सार्वजनिक रुप से ऐलान करते है वहि दुसरी और  क्या शिवराज जी को  आरटीओ चेकपोस्ट की जानकारी नही मील रही क्या…???

  या  भाजपा के संरक्षण मे ही ये चेकपोस्ट फल फुल रहा है और वाहन चालको को परेशान कर रखा है  आये दिन  फोटो विडीयो वायरल होने के बाद भी चेकपोस्ट पर कोई कार्यवाही ना  होना क्या दर्शाता है  की आऐ दिन वसुली से वाहन चालक के साथ वाहन मालिक भी परेशान हो चुके हैं। बता दे आपको  जब  2018 में कमलनाथ जी की सरकार आई थी तब भी स्नेहलता शर्मा ने प्रभारी हुकुम सिंह कराडा को आवेदन देकर ध्यान ईस और आकर्षित करवाया था और आश्वासन लीया था की काग्रेंस की सरकार मे चेक पोस्ट पर हो रही अवैध वसुली पर रोक लगाई जाएगी

 नीमच से नयागांव होते हुए राजस्थान को जोड़ने वाली सड़क पर बनाए गए आरटीओ चेकपोस्ट अवैध वसूली का अड्डा बन गया है। कहने को तो विभाग को राजस्व कर भी इन्हीं के द्वारा दिया जाता है, लेकिन ऐसा नहीं है, यहां सिर्फ अधिकारियों और कर्मचारियों के जेब भरे जाते हैं। इस सड़क पर चलने वाले रोजाना हजारों वाहनों से परिवहन विभाग के कर्मांचरियों और अधिकारियों के नाम से वसूली की जाती है, जिसमें रसीद तो कम और पैसा उससे दुगने से भी अधिक वसूला जाता है। इस मार्ग से गुजरने वाले हर कोई वाहन चालक और मालिक इनसे परेशान है।

 जब वाहन मालिकों से चेक पोस्ट पर वसूली के बारे में बात की तो उन्होंने बताया कि आप कहीं से भी आओ, आपको कहीं कुछ पैसा नहीं देना पड़ता। लेकिन अगर आप मध्यप्रदेश से राजस्थान की और जाते हैं तो इस परिवहन विभाग के चेकपोस्ट बेरियर में बिना पैसे दिए आगे नहीं जा सकते। कुछ वाहन चालकों को तो यहां पर रसीद दे दी जाती है, जबकि ज्यादातर लोगों को बिना रसीद दिए ही उनसे अवैध वसूली की जाती है।

यहां तक कि अगर इस बेरियर से कोई बाहरी दूसरे प्रदेश के वाहन को पार करके जाना है, तो फिर उनसे कितना पैसा लिया जाएगा उसकी कोई लिमिट नहीं है। वाहन चालकों का कहना है इस तरफ से उनके साथ शोषण सिर्फ यहीं होता है तो कुछ चालक की माने तो चेकपोस्ट में तैनात कर्मचारी बदतमीजी करने से भी बाज नहीं आते गाली-गलौज भी करते हैं। इस तरह से शोषण बन्द होना चाहिए। आरटीओ चेकपोस्ट पर आऐ दिन वाहन चालको से जो अवैध वसुली की जा रही है ये बंद होना चाहिए।

Related Articles

Back to top button