नीमच

श्री गंगा माता शंकु द्वार मेले का पंपलेट बन रहा नगर में बना चर्चा का विषय: विधायक प्रतिनिधि एवं सांसद प्रतिनिधि को नहीं मिला सम्मान

 

रामपुरा( मुकेश राठौर)

अपनी कार्यशैली को लेकर हमेशा सुर्खियों में बने वाली नगर परिषद रामपुरा इस बार अपनी एक और कार्य को लेकर नगर में चर्चा का विषय बनी हुई है नगर में हर चौक चौराहे पर चर्चा है कि दिनांक 4 नवंबर से 13 नवंबर के बीच रामपुरा नगर में संचालित होने वाला ऐतिहासिक गंगा माता शंकु द्वारका मेला तो प्रारंभ हो गया परंतु उसके प्रचार सामग्री पंपलेट फ्लेक्स बैनर मेला प्रारंभ होने के बाद छापे गए वही मेला सभापति से लेकर मेला प्रभारी एवं मेला समिति तक किसी भी पुरुष पार्षद को मेले में सम्मान नहीं दिया गया नगर परिषद रामपुरा द्वारा आयोजित मेले के प्रचार सामग्री फ्लेक्स पंपलेट बैनर पर इस बार नगर परिषद द्वारा नगर परिषद का हिस्सा कहे जाने वाले विधायक महोदय एवं सांसद महोदय के प्रतिनिधि के फोटो ना तो छापे गए ना ही उनके नाम लिखे गए हैं वहीं दूसरी तरफ मेले के पोस्टर में मेले की प्रभारी का नाम होना भी चर्चा का विषय बना हुआ है जबकि अभी तक संचालित हुए मेले में कभी भी मेला प्रभारी के नाम और फोटो प्रचार सामग्री में नहीं लगाए गए इसे मानवीय भूल गए या जानबूझकर किया गया कृत्य इस प्रकार सार्वजनिक आयोजन में जनप्रतिनिधियों का तिरस्कार क्यों किया गया एवं किसके इशारे पर किया गया इसको लेकर नगर में चर्चाओं का बाजार गर्म हो रहा है इस विषय में जब मुख्य नगरपालिका अधिकारी को फोन लगाया गया तो उन्होंने फोन तक नहीं उठाया कुल मिलाकर रामपुरा में संचालित होने वाला मेला प्रारंभ होने से पहले ही नगर में चर्चाओं का बाजार गर्म कर रहा है

Related Articles

Back to top button