खेल

T20 World Cup 2022: इंग्लैंड ने दूसरी बार जीता टी20 वर्ल्ड कप, पाकिस्तान को हराकर अंग्रेज बने चैंपियन

 

इंग्लैंड ने 2010 में पॉल कॉलिंगवुड की कप्तानी में टी20 वर्ल्ड कप जीतने के बाद 12 साल बाद जोस बटलर की कप्तानी में दूसरी बार ट्रॉफी अपने नाम कर ली है। 

T20 World Cup 2022: इंग्लैंड ने 2010 के बाद 12 साल बाद दूसरी बार टी20 वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम कर लिया है। ऑस्ट्रेलिया में खेले गए टी20 वर्ल्ड कप 2022 के फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने पाकिस्तान को 5 विकेट से हराकर ट्रॉफी पर कब्जा किया। 2019 में इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को हराकर वनडे वर्ल्ड कप जीता था वहीं तीन साल बाद एक बार फिर इस टीम ने आईसीसी का खिताब अपने नाम कर लिया। 2010 में पॉल कॉलिंगवुड की कप्तानी में टूर्नामेंट जीतने के बाद इंग्लैंड अब जोस बटलर की कप्तानी में चैंपियन बनी है।

क्या रहा मैच का हाल?

फाइनल मुकाबले की बात करें तो टॉस हारकर पहले खेलने उतरी पाकिस्तान की बल्लेबाजी शुरुआत से ही लड़खड़ाती नजर आई। मोहम्मद रिजवान को सैम करन ने क्लीन बोल्ड कर पाकिस्तान को पहली सफलता दिलाई। इसके बाद मोहम्मद हारिस भी ज्यादा देर नहीं टिक सके और 8 रन पर आदिल रशीद का शिकार बने। इसके बाद बाबर आजम एक छोर पर डटे थे लेकिन आदिल रशीद ने उन्हें भी ज्यादा देर नहीं टिकने दिया और अपनी ही गेंदबाजी में 32 के स्कोर पर पाकिस्तानी कप्तान को पवेलियन भेज दिया। 

शान मसूद एक छोर पर डटे रहे लेकिन दूसरे छोर से विकेट गिर रहे थे। इफ्तिखार अहमद खाता भी नहीं खोल पाए। 14 गेंदों पर 20 रनों की पारी खेल शादाब खान ने मसूद का साथ दिया और 5वें विकेट के लिए 36 रन जोड़े। लेकिन इसके बाद बैक टू बैक विकेट से पाकिस्तानी टीम उभर नहीं पाई। 20 ओवर की समाप्ति पर पाकिस्तान का स्कोर 8 विकेट पर 137 रन रहा। 138 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही और पहले ओवर में ही पिछले मैच के हीरो एलेक्स हेल्स को 1 रन पर शाहीन अफरीदी ने क्लीन बोल्ड कर दिया।

 

स्टोक्स ने निकाला मैच

एक छोर पर कप्तान जोस बटलर ने पारी को संभाले रखा और 17 गेंदों पर 26 रनों की पारी खेली। फिल सॉल्ट भी 10 रन बनाकर पारी को आगे नहीं बढ़ा पाए। हारिस रऊफ ने बैक टू बैक इंग्लैंड को दो झटके देकर पॉवरप्ले में तीन अंग्रेज खिलाड़ियों को पवेलियन भेज दिया। इसके बाद हैरी ब्रुक (20) ने बेन स्टोक्स का साथ दिया और चौथे विकेट के लिए 39 रनों की साझेदारी की। इसके बाद ब्रुक शादाब खान का शिकार बने, लेकिन स्टोक्स जब तक डटे रहे पाकिस्तान की उम्मीदें खतरे में रहीं।

Back to top button